तेलीबांधा तालाब ( समुद्री ड्राइव ) की आकर्षक करने वाली बाते

अगर आप को शहर में ही समुद्र के किनारे बने चौपाटी का आनद उठाने को मिल जाये तो मजा ही आ जायेगा न उसी तरह रायपुर में बने मरीन ड्राइव ( तेलीबांधा तालाब ) के बारे में आज हम बात करने वाले है तेलीबांधा तालाब को समुद्री ड्राइव भी कहा जाता है।

मरीन ड्राइव कैसे बना

छत्तीसगढ़ के पर्यटन बोर्ड के मंत्रालय द्वारा समुद्री ड्राइव विकसित किया गया है। यह बात पता नहीं होगा की मरीन ड्राइव पहले कैसा था और कितना गन्दा था दोस्तों मरीन ड्राइव पहले रायपुर के सब से गंदे तालाब में से एक था और इसके आस पास जुग्गियो में बहुत से गरीब लोग निवास करते थे पर जब यह मरीन ड्राइव का प्रोजेक्ट सामने आया तब सरकार के सामने यह बहुत बड़ा चेलेंज था की इन जुग्गियो को कैसे हटाया जाये, फिर इन लोगो के लिए सरकार ने इन जुग्गियो के बदले इनके लिए पक्के माकन बना के दिए उसके बाद मरीन ड्राइव को साफ किया गया और फिर यह मरीन ड्राइव बन कर तैयार हुआ | मरीन ड्राइव बहुत खुबशुरत जगहा है

संडे कार्यक्रम

मरीन ड्राइव की सबसे खास बात यह है की यहां संडे कार्यक्रम होता है | यहां ‘सेहतमंदी’ कार्यक्रम होता है। जो छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य विभाग के मंत्रालय द्वारा आयोजित किया जाता है। शाम को यह झील बहुत सुंदर दिखती है यहां थोड़ी देर ठहरें और सुंदर झील के दृश्यों का आनंद लें। तेलीबांधा झील जो शहर के सबसे व्यस्त गौरव पथ पर स्थित है। जो शहर के केंद्र में है, जहा जा के दोस्तों और फॅमिली के साथ टाइम स्पेंड कर सकते है|

मरीन ड्राइव की खूबसूरती

मरीन ड्राइव की खूबसूरती को बढ़ाने के लिए तालाब को बड़े हिस्से में फूड जोन, व्यू पाइंट, ओपन थियेटर और बच्चों के लिए प्ले जोन को अंतिम रूप दिया जा रहा है, ताकि बाहर से आने वाले और स्थानीय लोग तालाब किनारे परिवार के साथ बैठकर सुकून के साथ कुछ पल गुजार सकें।

इसमें म्यूजिकल फाउंटेन समेत कई और चीजें शामिल हैं। बोट में बैठकर नाश्ता या खाने का अहसास मिल सकेगा। इसके लिए बोट रेस्टोरेंट बनाने का प्लानिग किया गया है। इसमें मिनी बिच, जिम व स्पॉ की भी व्यवस्था रहेगी।

 विकसित तेलीबांधा तालाब

मुंबई के मरीन ड्राइव की तर्ज पर विकसित तेलीबांधा तालाब के डेडजोन को रिक्रिएशन जोन के रूप में विकसित करने का काम तेजी से चल रहा है।अहमदाबाद की ईसीएचटी कंपनी को नगर निगम ने 15 साल के लिए इस तालाब को विकसित करने का ठेका दिया है। जोन ए से जोन तीन तक के प्रोजेक्ट एरिया में 60 नई वार्म स्ट्रीट लाइट लगाने का काम पूरा कर लिया है।आने वाले दिनों में एंट्री पाइंट से तालाब के दूसरे छोर तक पीले रंग की रोशनी से जगमग यह स्थान दर्शकों को लुभाएगा।

यह भी पढ़े :- रायपुर के अम्बुजा मॉल की कुछ बाते

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *